जीवन में मिठास घोल देगा शहद का बिजनेस, हर महीने हो सकती है लाख रूपए से ज्यादा की कमाई

76
Share Now

जीवन में अगर मिठास घोलनी है तो शहद का बिज़नेस करने का मन बना लीजिए। क्योंकि इसी शहद से बिज़नेस से आप मोटी कमाई कर सकते हैं।खास बात है कि इस बिजनेस के लिए सरकार आपकी मदद करेगी।यानी कम बजट में सरकारी मदद की सहायता से आप हर महीने लाख रुपए से ज्यादा की कमाई आराम से कर सकते हैं। उत्तराखंड में तो आप इस शहद के बिज़नेस से ज्यादा कमाई कर सकते हैं क्योंकि यहां के हालात, फूल और जंगल का हनी की मार्केट में भारी डिमांड है।

इस वक्त सरकार ग्रामीण उद्योगों के बढ़ावे को लेकर खासा ज़ोर दे रही है। केंद्र सरकार की कोशिश यही है कि ग्रामीण उद्योग का टर्नओवर जितना ज्यादा बढ़ेगा उतने ही बेहतर नतीजे सामने आऐंगे। हाल ही में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भी कहा है कि सरकार खादी के साथ-साथ दूसरे ग्रामीण उद्योगों को बढ़ाने के लिए पुरज़ोर प्रयास कर रही है। रेस्तरां, एयरलाइन्स और होटल्स में परोसे जाने वाली चाय में चीनी की जगह शहद का इस्तेमाल बढ़ाने पर सरकार एक प्लान तैयार कर चुकी है। यानी सरकार इस प्लान को जैसे ही अमल में लाती है तो बाज़ार में शहद की बेइंतेहां मांग बढ़ जाएगी। लिहाज़ा अगर आप भी समय रहते शहद के बिज़नेस को अपना लेंगे तो आपकी बल्ले-बल्ले हो सकती है। जानिए आखिर कैसे इस बिजनेस को आप कैसे सेट अप कर सकते हैं और कैसे शहद से कमाई कर अपने जीवन में मिठास घोल सकते हैं।

शहद का बिजनेस देगा मोटी कमाई

खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (KVIC) ने इस दिशा में बेहतरीन काम किए हैं। गांव-गांव में खादी आयोग ने अपने पैर पसारे हैं और लोगों को मधु के बिजनेस के लिए प्रेरित किया है। खास बात ये है कि KVIC ने पिछले दो साल से भी कम समय में देश के किसानों एवं बेरोजगार युवकों को मधुमक्खी पालने के लिये एक लाख से ज्यादा बक्से बांटे हैं। आयोग ने ये काम सरकार द्वारा चलाए जा रहे ‘हनी मिशन’ के तहत किया है। अगर आप अपना बिजनेस शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं तो आपके लिए इस वक्त खादी आयोग से जुड़कर व्यवसाय करने का बेहतरीन मौका है। आप हनी हाउस और हनी प्रोसेसिंग प्‍लांट लगा सकते हैं जिसके लिए खादी आयोग आपकी पूरी मदद करेगा।

मोम ओर पॉलन से भी कमाई

खादी ग्रामोद्योग विभाग का हनी मिशन योजना हाल ही में शुरू की गई है। इससे जुड़कर अगर आप पैसे कमाना चाहते हैं तो इस रोजगार को शुरू कर मोटी कमाई कर सकते हैं। लोग हनी मिशन के तहत मधुमक्खी पालन कर अतिरिक्त कमाई कर सकते हैं। तकनीक के मामले में भी खादी आयोग ने अपनी तकनीक अब और भी बेहतर कर ली है। अब ऐसी तकनीक आ गई है, जिसके माध्यम से शहद निकालते समय मधुमक्खियां नहीं मरतीं। मोम और पॉलन भी बनता है। यानी आपको आम तो मिलेंगे ही गुठलियों के भी दाम मिलेंगे।आज का किसान और बेरोजगार युवक खादी आयोग के इस मिशन को रोजगार के तौर पर अपना रहे हैं और मालामाल बन रहे हैं।

सरकार ऐसे करती है सपोर्ट

यहां तक अगर आपको बात समझ आ गई तो यकीन मानिए इस योजना में आपकी लागत भी बेहद कम लगने वाली है। क्योंकि सरकार आपको वित्तीय सहायता भी प्रदान करेगी ताकि आप अपने इस मिशन में जल्द से जल्द कामयाब हो जाएं। यानी अगर आप इस स्‍कीम के तहत हनी प्रोसेसिंग प्‍लांट लगाना चाहते हैं तो खादी कमीशन की ओर से आपको 65 फीसदी लोन दिलाया जाता है और खादी ग्रामोद्योग आपको 25 फीसदी सब्सिडी भी देता है यानी कि आपको केवल 10 फीसदी पैसा लगाना पड़ता है। यानी वित्तीय नज़रिए से ये एक ऐसी योजना है जिसमें आपको हर तरफ से फायदा ही फायदा मिलेगा।

मिलेगा 16 लाख रुपये का लोन

शहद के बिज़नेस का गणित भी समझ लीजिए। ये बेहद आसान है। सरकार आपकी मदद इसलिए कर रही है कि हनी मिशन मोदी सरकार का एक ड्रीम प्रोजेक्ट है जिसके तहत वो हर गांव में शहद के क्लस्टर डेवलेप करने में जुटी हुई है। लिहाजा ये मौका आपके लिए सुनहरा मौका है। केवीआईसी के मुताबिक, आप 20 हजार किलोग्राम सालाना शहद बनाने वाला प्‍लांट लगाना चाहते हैं तो इस पर लगभग 24.50 लाख रुपये का खर्च आएगा। इसमें से आपको लगभग 16 लाख रुपये का लोन मिल जाएगा, जबकि मार्जिन मनी के रूप में 6.15 लाख रुपये मिल जाएंगे और आपको अपनी ओर से केवल लगभग 2.35 लाख रुपये लगाने होंगे।

हर महीने होगी लाख रुपये की कमाई

केवीआईसी का कहना है कि अगर आप सालाना में 20 हजार किलोग्राम शहर तैयार करते हैं, जिसकी कीमत 250 रुपये प्रति किलोग्राम है, इसमें से 4 फीसदी वर्किंग लॉस को भी शामिल कर लिया जाए तो आपकी सालाना बिक्री 48 लाख रुपये होगी। इसमें से सभी खर्च जो लगभग 34.15 लाख रुपये होगा को कम कर दिया जाए तो आपको साल भर में लगभग 13.85 लाख रुपये की आमदनी होगी। यानी कि आप हर महीने 1 लाख रुपये से ज्यादा कमाई कर सकते हैं। यानी सरकार के इस प्रोजेक्ट में मोटी कमाई है। शुरुआत निवेश भी कम करना होगा, सरकार की मदद भी मिलेगी, गांव का विकास भी होगा और आपकी जेब भी भरेगी। तो तैयार हो जाइए सरकार की इस शानदार योजना से जुड़ने के लिए। क्योंकि ये शानदार मौका आपके चेहरे पर मुस्कान भी देगा और आपको मिठास से भी भर देगा बिल्कुल शहद की तरह।


Share Now